Elaichi के फायदे
Spread the love

इलायची का सेवन आमतौर पर मुखशुद्धि के लिए अथवा मसाले के रूप में किया जाता है। यह दो प्रकार की आती है- हरी या छोटी इलायची तथा बड़ी इलायची। जहाँ बड़ी इलायची व्यंजनों को लजीज बनाने के लिए एक मसाले के रूप में प्रयुक्त होती है, वहीं हरी इलायची मिठाइयों की खुशबू बढ़ाती है।
मसालों में से एक हैं इलायची(Cardamom) जो आसानी से घर में मिल जाती हैं, इलायची का इस्तेमाल खाने के साथ साथ कई सारी बीमारियों को ठीक करने में भी किया जाता है इसकी जानकारी बहुत कम लोगो को पता होती है। किसी भी खाने की चीज को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसमे लोग इलायची जरुर डालते है। शायद इसी वजह से भी इलायची को मसालों की रानी कहा जाता है। इसकी सुगंध ही इतनी अच्छी होती है की लोग दूर से समझ लेते है। चाय में इलायची डालने से चाय और भी अच्छा हो जाता है। ज्यादातर लोग चाय में इलायची डालकर ही पीते है। इलायची महँगी होने के बाद भी लोग बड़ी मात्रा में इलायची का इस्तेमाल करते है।

इलाचयी के स्वास्थ्य से जुड़े फ़ायदे

खासी में: Cures Cough

इलायची में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते है। काली इलायची खासी, जुकाम और श्वसन से जुडी बीमारी को ठीक करने सहायता करती है। इलायची की फली को शहद के साथ में पानी में भिगोकर रखने के बाद इसे चाय में इस्तेमाल किया जाए तो फ्लू से छुटकारा मिल जाता है। इलायची शरीर को गर्मी प्रदान करती है।

खून साफ़ करता हैं: 
कई बार हमारे चेहरे पर पिम्पल्स की समस्या हो जाती है जिससे हमारी खूबसूरती पूरी तरह से बिगड़ जाती है और हम आपको बता दे की पिम्पल्स की सबसे बड़ी वजह होती है हमारे खून का साफ ना होना और ऐसे में यदि आप रात को दो इलायची खाकर गर्म पानी पीते है तो इससे आपके शरीर का रक्त प्रवाह सुधरता हैं और साथ ही आपका खून साफ़ (शुद्ध) हो जाता हैं और आपका चेहरा चमक उठता हैं

पाचन शक्ति : Digestion
इलायची का सेवन करने से शरीर में एंजाइम सक्रिय हो जाते है जिसकी वजह से खाना पचाने में मदत मिलती है। इलायची के सेवन से अपच, गैस और कब्ज की बीमारी से छुटकारा मिल जाता है। इसमें कुछ रासायनिक तत्व होते है जो आतो में खाने की गतिविधि को काफी तीव्र कर देता है। इलायची को केवल सुगंध के लिए ही इस्तेमाल नहीं किया जाता बल्की इसके इस्तेमाल से पाचन और बेहतर होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स और उत्तेजक विरोधी तत्व होने की वजह पाचन काफी अच्छे से होता है।

इलायची ह्रदय को रखती है स्वस्थ – 
इलायची में फायबर होता है जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है और उससे ह्रदय बिलकुल ठीक रहता है। इलायची में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होने की वजह से इलायची ह्रदय को बिलकुल स्वस्थ रखने में कारगर है। इसमें इलायची रक्तचाप को भी कम रखने में मदत करता है जिसकी वजह से भी हृदय को लाभ ही पहुचता है। इसके लिए आडू के रस में एक चमच धनिया और और इलायची डालकर लेने से मदत मिलती है। जिन्हें कैंसर हुआ है उन्हें भी स्वस्थ करने में इलायची फायदेमंद साबित हुई है।

यौन समस्या में उपयोगी:
इलायची में बड़ी मात्रा में सिनोल होता है इसलिए इलायची का थोड़ासा भी पाउडर लेने से तंत्रिका उत्तेजित हो जाती है और इसकी वजह से ही यौन स्वास्थ्य बेहतर हो जाता है।

वजन घटाए : 
यदि आप अपने अपनी बढ़ती तोंद या फिर मोटापा से परेशान हैं और वजन घटना चाहते हैं तो ऐसे में रोज रात को सोने से पहले दो इलायची खा कर गरम पानी से आपको चौका देने वाले benefits  मिलेंगे |बता दे इलायची में मौजूद पोटेशियम, मैग्नेशियम, विटामिन डी, विटामिन बी1, विटामिन बी6 और विटामिन सी आपकी शरीर में बनी अतिरिक्त चर्बी को पिघला देते हैं और आपके वजन को भी नियंत्रित रखने में मददगार साबित होता है

त्वचा की अलर्जी को ख़तम करने में सहायक:
काली इलायची में कई सारे जिवानुरोधी तत्व होते है। इलायची और शहद का मिश्रण बनाकर जिस जगह पर अलर्जी होती है वह लगाने से अलर्जी पूरी तरह से निकल जाती है।

इलायची को किसी डिब्बे में रखने पर इलायची एक साल तक भी इस्तेमाल की जा सकती है लेकिन इस बात का ध्यान रहे की उसे ठंडी और सुखी जगह पर संभालकर रखे। इलायची को डिब्बे में रखने के बाद में उसपर सूरज की किरने ना पड़ने दे। अगर इलायची को बड़ी मात्रा में इकट्टा करके रखना है तो उसे किसी पॉलिथीन की बैग में रखकर उस बैग को किसी लकड़ी के डिब्बे में रख दे ताकी इलायची लम्बे समय तक अच्छी रहे। इससे इलायची का हरा रंग भी वैसे का वैसे ही रहेगा। इलायची को जिस बैग में रखा जाता है वह पूरी तरह से सुखी होनी चाहिए। अगर बैग में थोडीसी भी नमी हो तो उससे इलायची ख़राब भी हो सकती है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *