BB और CC क्रीम के बीच का अंतर क्या हैं?
Spread the love

मेकअप फाउंडेशन को रिप्लेस करने वाले BB, CC और DD क्रीम आजकल बहुत ही ज़्यादा डिमांड में हैं. लेकिन हम में से बहुत कम लोग ही जानते हैं कि यह सारे क्रीम करते क्या हैं? तो चलिए जानते हैं BB और CC क्रीम क्या है –

बीबी यानी ब्यूटी बाम/ब्लेमिश बाम

ब्यूटी बाम या ब्लेमिश बाम का संक्षिप्त रूप है BB. बीबी क्रीम ऐसे टिंटेड मॉइस्चराइज़र की तरह है, जिसके भीतर त्वचा को फ़ायदा पहुंचाने वाले ढेर सारे गुण मौजूद हैं. ये केवल आपकी त्वचा को कोमल ही नहीं बनाती, बल्कि त्वचा की नमी और चमक बरक़रार रखते हुए धूप से आपकी त्वचा की सुरक्षा भी करती है. बीबी क्रीम मॉइस्चराइज़र और फ़ाउंडेशन के दोहरे फ़ायदों से भरी होती है. अत: जब आप इसे लगाकर मेकअप करती हैं तो मेकअप जहां चिकना नज़र आता है, वहीं लंबे समय तक चेहरे पर टिका भी रहता है.

सीसी यानी कलर करेक्शन/कॉम्प्लेक्शन केयर

कलर करेक्शन या कॉम्पलेक्शन केयर का संक्षिप्त रूप है CC. भारतीय लोगों की त्वचा की सबसे बड़ी समस्या है पैचीनेस यानी चेहरे की त्वचा की रंगत का असमान होना. यह क्रीम आपके चेहरे की इस समस्या को दूर करते हुए चेहरे की रंगत को एक समान बनाने का काम करती है. यह क्रीम चेहरे की लालिमा को भी छुपा लेती है. इसका मतलब यह हुआ कि यदि आप रोज़ाना कंसीलर का इस्तेमाल करती हैं तो सीसी क्रीम आपके लिए एक अच्छा विकल्प है. यहां यह जानना भी ज़रूरी है कि सीसी क्रीम का टेक्स्चर बीबी क्रीम की तुलना में हल्का होता है और इसलिए इसे लगाने पर त्वचा पर सॉफ़्ट मैट इफ़ेक्ट आता है.

बीबी और सीसी क्रीम के बीच अंतर

जहां सीसी क्रीम आपकी त्वचा को सेमी मैट और नैसर्गिक लगने वाला प्रभाव देती है, बीबी क्रीम आपको मैट, नमीयुक्त और चमकदार लुक देती है. सीसी क्रीम का टेक्स्चर बीबी क्रीम की तुलना में हल्का होता है. बीबी क्रीम अच्छे बेस का काम करती है और आपके रोज़ाना के लुक को कमाल का बना देती है. इसका इस्तेमाल आसान है. वहीं सीसी क्रीम उनके लिए है, जिनकी त्वचा में लालिमा या असमान रंगत की समस्या है. अत: आप अपनी त्वचा की ज़रूरत के मुताबिक़ बीबी या सीसी क्रीम का चुनाव कर सकती हैं.

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *