आज लड़कियां जिनकी आंखों पर आधुनिकता का पर्दा पड़ा है. वो अपने दोस्तों और फिल्मों में दिखाए गए कुछ प्रसंगो से उत्तेजित हो कर धूम्रपान को अपने जीवन का एक हिस्सा समझती है. उनको नशा करना एक मॉर्डन लाइफस्टाइल का महत्वपूर्ण अंग लगता है. जिस कारन आज लड़कियों को खुले आम नशा करते हुए या तम्बाकू लेते हुए देखा जा सकता है. वैसे ये उनका अपना निजी मामला है. मगर यदि इस नशे को वो अपने जीवन का हिस्सा बना लेती है. तो ये उनके साथ साथ उनके परिवार के लिए भी नुकसानदायक हो सकती है. world tobacco day अब आते है क्या महिलाओं को धूम्रपान करना चाहिए. धूम्रपान पुरुष करे या महिला हमेशा नुक्सान दायक ही होता है मगर यहाँ बात हो रही है महिलाओं की तो मैं उन महिलाओं को यहाँ कहना चाहूंगी जो खुद नशा करती हैं की आप खुद सशक्त बनो और अपने पतियों को भी शराब या धूम्रपान की लत को छुड़ाने के लिए संगठित होकर शराब ठेके को नष्ट करने की कोशिश करो। क्यूंकि धूम्रपान और शराब पीना सभी के लिए समान रूप से नुकसानदायक है। धूम्रपान से केवल धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को ही नहीं बल्कि उसके परिवार के सदस्यों को भी हानि पहुँच सकती है। world tobacco day गर्भवती महिलाओं में धूम्रपान हानिकारक - यदि महिला धूमपान करती है तो उसके आने वाली पीडियां भी उस नशे नहीं बच सकती क्यूंकि एक गर्भवती महिला को धूम्रपान से मृत प्रसव और नवजात की शीघ्र मृत्यु की आशंका हो सकती है. साथ ही उसे समय-पूर्व प्रसव का वर्धित जोखिम भी उठाना पद सकता है. और यदि ऐसे में बच्चे का जन्म हो भी जाये तो बच्चा कम वजन हो सकता है, इसलिए महिलाएं धूम्रपान न करें तो अच्छा है. world tobacco day महिलाओं को पसंद है सेक्स के बाद धूम्रपान करना एक शोध में पाया गया था कि 94 फीसद महिलाएं अपने घर में ही सिगरेट पीना पसंद करती हैं।एक तरफ पुरुष खाना खाने के बाद धूम्रपान करते हैं तो दूसरी और 58 फीसद महिलाएं सेक्स के बाद सिगरेट पीना पसंद करती हैं।"/>
क्या महिलाओं को धूम्रपान करना चाहिए.
Spread the love

World Tobacco day (विश्व धूम्रपान निषेध दिवस ) पर मैं कहना चाहूंगी की नशा किसी भी तरह का हो हमेशा गलत ही होता है. हम सब जानते हैं की धूम्रपान करने से कैंसर होता है और कैंसर की बीमारी लिंग भेद नहीं देखती, कैंसर भी क्या कोई भी बिमारी हो लिंग भेद नहीं होता. बीमारी तो बीमारी है.

महिलाएं क्यों धूम्रपान करती है.

महिलाएं यदि धूम्रपान कर रही हैं तो इसके पीछे पहला कारण होता है उनकी तनावग्रस्त स्थिति. उनके किसी बात का हमेशा तनाव या खुचाव रहता है. जिसको सहन करने के लिए वो smoking का सहारा लेती हैं  मगर में world tobacco day पर कहना चाहूंगी की आज की महिला का धूम्रपान करने के पीछे मुख्य कारण है उनका आधुनिकता में रहना.

मैं एक महिला होने के नाते कहूँगी की किसी भी महिला का आधुनिक होना नुक्सान दायक नहीं यदि वो अपने और अपने परिवार के भविष्य गिरता होना न देखे तो. हर महिला को अपनी बुद्धि के साथ विवेक का भी उतना ही इस्तेमाल करना चाहिए जिससे की उसे कोई भी बात का आगे जाके पछतावा न करना पड़े.

world tobacco day

आज लड़कियां जिनकी आंखों पर आधुनिकता का पर्दा पड़ा है. वो अपने दोस्तों और फिल्मों में दिखाए गए कुछ प्रसंगो से उत्तेजित हो कर धूम्रपान को अपने जीवन का एक हिस्सा समझती है. उनको नशा करना एक मॉर्डन लाइफस्टाइल का महत्वपूर्ण अंग लगता है. जिस कारन आज लड़कियों को खुले आम नशा करते हुए या तम्बाकू लेते हुए देखा जा सकता है. वैसे ये उनका अपना निजी मामला है. मगर यदि इस नशे को वो अपने जीवन का हिस्सा बना लेती है. तो ये उनके साथ साथ उनके परिवार के लिए भी नुकसानदायक हो सकती है.

world tobacco day

अब आते है क्या महिलाओं को धूम्रपान करना चाहिए.
धूम्रपान पुरुष करे या महिला हमेशा नुक्सान दायक ही होता है मगर यहाँ बात हो रही है महिलाओं की तो मैं उन महिलाओं को यहाँ कहना चाहूंगी जो खुद नशा करती हैं की आप खुद सशक्त बनो और अपने पतियों को भी शराब या धूम्रपान की लत को छुड़ाने के लिए संगठित होकर शराब ठेके को नष्ट करने की कोशिश करो। क्यूंकि धूम्रपान और शराब पीना सभी के लिए समान रूप से नुकसानदायक है। धूम्रपान से केवल धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को ही नहीं बल्कि उसके परिवार के सदस्यों को भी हानि पहुँच सकती है।

world tobacco day

गर्भवती महिलाओं में धूम्रपान हानिकारक –
यदि महिला धूमपान करती है तो उसके आने वाली पीडियां भी उस नशे नहीं बच सकती क्यूंकि एक गर्भवती महिला को धूम्रपान से मृत प्रसव और नवजात की शीघ्र मृत्यु की आशंका हो सकती है. साथ ही उसे समय-पूर्व प्रसव का वर्धित जोखिम भी उठाना पद सकता है. और यदि ऐसे में बच्चे का जन्म हो भी जाये तो बच्चा कम वजन हो सकता है, इसलिए महिलाएं धूम्रपान न करें तो अच्छा है.

world tobacco day

महिलाओं को पसंद है सेक्स के बाद धूम्रपान करना
एक शोध में पाया गया था कि 94 फीसद महिलाएं अपने घर में ही सिगरेट पीना पसंद करती हैं।एक तरफ पुरुष खाना खाने के बाद धूम्रपान करते हैं तो दूसरी और 58 फीसद महिलाएं सेक्स के बाद सिगरेट पीना पसंद करती हैं।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *